E Shram Card kya Hota hai

 ई-श्रम कार्ड बनवाइए

2 लाख रुपये का मुफ्त बीमा पाइये

👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌👌


अपने घर की कामवाली बाई / नौकर, आपकी दुक़ान और आसपास के दुकानों में काम करने वाले नौकर/सेल्सगर्ल/सेल्सबॉय, रिक्शा चालक आदि सभी को  2 लाख रुपये का मुफ्त बीमा है तथा 5 लाख तक का मुफ्त इलाज है।

ई-श्रम कार्ड कौन पात्र है 

वे सभी व्यक्ति जिनकी उम्र 16 से 59 साल के बीच है 


ई-श्रम कार्ड कौन पात्र नहीं है 

जो इनकम टैक्स जमा करता है 

जो CPS/NPS/EPFO/ESIC का सदस्य है 

कैसे करें आवेदन 

पंजीयन आपके आसपास के किसी भी चॉइस सेंटर / लोक सेवा केंद्र (LSK)/CSC/ पोस्ट ऑफिस  में हो सकता है।  eshram.gov.in साइट से खुद भी पंजीयन कर सकते हैं 

ई-श्रम कार्ड आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

केवल आधार नंबर, मोबाईल नंबर और बैंक का खाता नंबर चाहिए 


ई-श्रम कार्ड क्या फायदा होगा 

– 2 लाख रुपये का मुफ्त बीमा

– श्रम विभाग की सभी योजनाओं का लाभ जैसे बच्चों को छात्रवृत्ति, मुफ्त सायकल , मुफ्त सिलाई मशीन, अपने  काम के लिए  मुफ्त उपकरण आदि

– भविष्य में राशन कार्ड को इससे लिंक किया जायेगा जिससे देश के किसी भी राशन दुक़ान से राशन मिल जायेगा  


वास्तव में आपके आसपास दिखने वाले प्रत्येक कामगार का यह कार्ड बन सकता है।  विभिन्न प्रकार के मजदूरों / कामगारों का उदाहरण,  जिनका ई-श्रम कार्ड बन सकता है  निम्नानुसार हैं : –


घर का नौकर – नौकरानी (काम वाली बाई), खाना बनाने वाली बाई (कुक), सफाई कर्मचारी, गार्ड,  रेजा, कुली, रिक्शा चालक, ठेला में किसी भी प्रकार का सामान बेचने वाला (वेंडर), चाट ठेला वाला, भेल वाला, चाय वाला, होटल के नौकर/वेटर, रिसेप्शनिस्ट, पूछताछ वाले क्लर्क, ऑपरेटर,   हर दुकान का नौकर / सेल्समैन / हेल्पर, ऑटो चालक, ड्राइवर, पंचर बनाने वाला,  ब्यूटी पार्लर की वर्कर, नाई, मोची, दर्ज़ी ,बढ़ई , प्लम्बर, बिजली वाला (इलेक्ट्रीशियन), पोताई वाला (पेंटर), टाइल्स वाला, वेल्डिंग वाला, खेती वाले मज़दूर, नरेगा मज़दूर, ईंट भट्ठा के मज़दूर, पत्थर तोड़ने वाले, खदान मज़दूर, फाल्स सीलिंग वाला, मूर्ती बनाने वाले, मछुवारा, चरवाहा, डेयरी वाले, सभी पशुपालक, पेपर का हॉकर,  जोमैटो स्विगी के डिलीवरी बॉय, अमेज़न फ्लिपकार्ट के डिलीवरी बॉय  (कूरियर वाले), नर्स, वार्डबॉय, आया,  मंदिर के पुजारी,  विभिन्न सरकारी ऑफिस के दैनिक वेतन भोगी, कलेक्टर  रेट वाले कर्मचारी, आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता सहायिका, मितानिन, आशा वर्कर  आदि आदि अर्थात  सभी तरह के व्यक्ति का पंजीयन हो सकता है। 


इस मैसेज को पढ़ने वाले व्यक्ति से निवेदन है कि कम से कम इस मैसेज को अपने Contact/Groups में शेयर कर दीजिये, ताकि जरूरतमंद व्यक्ति / मज़दूर का पंजीयन हो सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: कृपया पढ़ लो भाई या खुद लिख लो भाई !!
%d bloggers like this: